Monday, 23 January 2012

ब्रज उत्सव में पढ़े "ठाकुर जी का हिंडोलना उत्सव"


                                                                               
सावन के आते ही ब्रज के कई मन्दिरों में हिंडोला एवं घटा उत्सव की धूम शुरू हो जाती है. वृन्दावन एवं बरसाना का मशहूर हिंडोला उत्सव "हरियाली तीज" के दिन से लेकर "राखी पूर्णिमा" तक श्री जी नित्य झूला में बैठकर, सुन्दर-सुन्दर हिंडोरन में विराजमान होकर हम सभी रसिक भक्तों के नैन रुपी चातक को अपने अलौकिक दर्शन की दिव्य वर्षा के द्वारा संतृप्त करते है.

see more.....

3 comments:

  1. radhe shyam....nice posts on this site
    ...you can also see my site for bhaktamal katha and teachings of saints

    ReplyDelete